Login Sign Up Welcome
Guest




"हिटनैं र" 🌹🌹
November 14, 2016 | Alok Pandey






Link for Book




बटोइया रे ! हिटनैं र , तू हिटनैं र ।
य बाट् चाँनैं तू हिटनैं र।।
मंजिल ओर कदम जब बढ़ला।
खुटि का बाद खुटी जब धरला।
निगुर य बाट् है जालो सरला।।
कम हली दूरी और तेरि आशा पूरी।। .... ......... ..
थाकण क् नाम ल्हिण न्हैं आज।
जब तक त्यर् पुरियो नैं काज।।
बटोइया रे ! हिटनैं र , तू हिटनैं र ।
य बाट् चाँनैं तू हिटनैं र।। .... ......... ..

🙏🏒मोहन जोशी

KissaKriti | "हिटनैं र" 🌹🌹
Likes (1) Comments (0)